रासायनिक समीकरण को संतुलित करना सीखें

By | November 3, 2017
Share the post on the Social midea
  • 6
    Shares

हेल्लो ,दोस्तों  हमें रासायनिक समीकरण को संतुलित करने से पहले यह जानना आवश्यक है की रासायनिक समीकरण होता क्या है , तो सबसे पहले हम रासायनिक समीकरणों के Definition को समझते है यदि आपको chemistry का basic जानकारी आपको नहीं है तो आपको first of all निचे दिए गए लिंक पर जाकर chemistry  बेसिक जानकारी लेनी चाहिए-

रासायनिक समीकरण

(1)रासायनिक समीकरण (Chemical Equations):-

जिसप्रकार किसी तत्व जैसे की हाइड्रोजन के एक परमाणु को H से और एक अणु को H२ से ब्यक्त किया जाता है और पानी के एक अणु को H२O से ब्यक्त कीया जाता है उसी प्रकार रासायनिक अभिक्रियाओ को ब्यक्त करने के लिए तत्वो के अणु और परमाणुओं को उसके Symbolic फोर्मेट में व्यक्त करते है. इसे हम रासयानिक समिकरण या Chemical Equation कहते है. इसे हम निचे दिए गए Chemical Equation के द्वारा समझेगें –

      CaCO३ + HCl = CaCl२ + H२O +CO२ +CO२ ↑

यदि इसके दोनों ओर की समीकरण में परमाणुओं की संख्या बराबर हो तो इसे हम संतुलित समीकरण भी कहते है. जैसे

      CaCO३ + 2HCl = CaCl२ + H२O +CO२ +CO२ ↑

इस समीकरण में दोनों तरफ की परमाणुओं  की संख्या बराबर है अतः इसे संतुलित समीकरण भी कहते है

ऊपर दिए गए रासायनिक समीकरण में – काल्सियम कार्बोनेट पर हाइड्रोक्लोरिक अम्ल की अभिक्रिया करने से कैलेसियम क्लोराइड और जल बनते है और CO२ गैस मुक्त होती है. रासायनिक समीकरण को से संतुलित करने के लीये अभिकारक(Reactants) और उत्पाद (Product) के बिच में ” = ” या ” ->” का चिन्ह लगाया जाता है.  इसप्रकार के समीकरण को हम skeleton equation या ढ़ाचा समीकरण कहतें है.यह समीकरण हमेसा symbol के रूप में लिखा जाता है.

अभिकारक (Reactants):-

वैसे यौगिक जो रासायनिक अभिक्रिया में भाग लेते है उसे अभिकारक कहा जाता है अथवा  ऊपर के दिए गए समीकरण में ” = ” के left side के यौगिकों को हम अभिकारक कहेगें  , ऊपर दिए गए समीकरण में CaCO३ और  HCl अभिकारक है,

उत्पाद (product):-

रासायनिक अभिक्रिया होने के पश्चात जो यौगिक बनाते है उसे उत्पाद कहा जाता है ,उत्पाद हमेसा रासायनिक समीकरण में Right Side में लिखा जाता है .ऊपर के दिए गए समीकरण में CaCl२ , H२O ,CO२ और  CO२  दिए गए समीकरण में उत्पाद है. “ ↑  ” हिन्ह का अर्थ है की रासायनिक समीकरण के बाद गैस मुक्त होती है ऊपर दिए गए समीकरण में CO२ गैस मुक्त हो रही है.

रसायनिक समीकरणों के प्रकार ( kind of Chemical equation):-

रासानिक समीकरण मुख्यतः दो प्रकार के होते है.

(1)आणविक समीकरण (molecular equation):-

वैसे रासायनिक समीकरण जिसमें भाग लेने वाले तत्व  मुक्त अवस्था में पाए जाते है अथवा आणविक अवस्था में होते है इसे ,आणविक समीकरण कहा जाता है.

Ex:-   2KClO३ = 2KCl + 3O२ 

इस समीकरण में ओक्सिज़न “O२” अणु के फॉर्म में है , Therefore यह समीकरण एक आणविक समीकरण है ,इस समीकरण में परमाणुओं की संख्या दोनों तरफ बराबर है इस लिए यह समीकरण एक संतुलित आणविक समीकरण है

(1)परमाण्विक समीकरण( Atomic Equation):-

वैसी रासायनिक समीकरण जिसमे भाग लेने वाले तत्व मुक्त अवस्था में नहीं पाए जाते है अथवा परमाण्विक अवस्था में पाए जाते है  ,इसे हम परमाण्विक समीकरण कहते है.

Ex:-   KClO३ = KCl + 3O |^

इस समीकरण में ओक्सीजेन (“O”)परमाणु के फॉर्म में है अतः यह समीकरण एक परमाण्विक समीकरण है. इस समीकरण में परमाणुओं की संख्या दोनों तरफ बराबर है इस लिए यह समीकरण एक संतुलित आणविक समीकरण है.

नोट :- ऊपर दिए गए समीकरण बताता है की – पोटेशियम क्लोरेट( KClO३ ) को गरम करने पर पोटेशियम क्लोराइड(KCl) and आक्सीजन (O)बनता है.

रासायनिक समीकरण से हमें क्या पता चलता है –

(i) Mg + H२SO४ = MgSO४ + H२  इस दिए गए समीकरण में हमें निम्नलिखित बातें मालूम होती है-

1.सल्फुरिक अम्ल (H२SO४) की मैग्नीशियम(Mg)से अभिक्रिया में मेगनीसियम सल्फेट(MgSO४) और हाइड्रोजन (H) बनती है.

2.मग्निसियम के एक अणु सल्फुरिक अम्ल के एक अणु से मिलकर मैग्निसियम मग्निसियम सल्फेट की एक अणु and हाइड्रोजन के एक अणु बनते है.

3.इस समीकरण में मग्निसियम के एक अणु में केवल एक ही परमामु है.सल्फुरिक अम्ल के एक अणु में हाइड्रोजन के दो परमाणु , सल्फर के एक परमाणु और ऑक्सीजन के चार परमाणु है. मैगनीसियम सल्फेट के एक अणु में मग्निसियम का एक परमाणु गंधक का एक परमाणु और ओक्सिजन के चार परमाणु है. and हाइड्रोजन के एक अनु में दो परमाणु है.

(ii) CaCO३ + HCl = CaCl२ + H२O +CO२ |^   इस दिए गए समीकरण में हमें निम्नलिखित बातें मालूम होती है-

1.कैलेसियम कार्बोनेट (CaCO३) की HCl से अभिक्रिया कर के CaCl२ , H२O , CO२ , CO२ बनता है.

2.CaCO३ का एक अणु HCl के एक अणु से मिलकर  CaCl२ का एक अणु H२O का एक अणु CO२ का एक अणु बनता है.

रसायनिक समीकरणों को संतुलित करने की विधि :-

रासायनिक समीकरणों को संतुलित करने की प्रायः दो विधियां पाइ जाती है –

(i)अनुमान विधि (Hits and Trial mathods):-

(ii)आंशिक अनुमान विधि (partial Equations Mathods):-

(i)अनुमान विधि (Hits and Trial Mathods):-

सरल रासायनिक समीकरण को इस विधि के द्वारा बहुत ही सरलता के साथ संतुलित किया जा सकता है.इसके निम्नलिखित नियम है-

1.इस विधि में समीकरण के दोनों ओर प्रत्येक तत्व के परमाणुओं की संख्या गिनकर बराबर करने की प्रयत्न किया जाता है.

2.सबसे पहले उस तत्व के परमाणु को संतुलित करेगें जो सबसे कम स्थान पर आया होगा.

३.अंत में उस तत्व के परमाणु को संतुलित करेगें , जो दोनों ओर सबसे अधिक बार आया होगा.

4.दोनों तरफ की परमाणुओं की संख्या बराबर करने के लिए हम कीसी भी अणु के अनणुसुत्र में बराबर संख्या से गुणा  कर सकते है.

5.उदहारण के लिए H2O में “H” परमाणु की संख्या 2 है और “O” परमाणु की संक्ख्या एक है .ठीक इसी प्रकार 2H2O में “H” परमाणु की संख्या 4(2*2)  है और “O” परमाणु की संक्ख्या दो होगी.

इसे निचे दिए गए कुछ संतुलित किये हुए समीकरणों से समझेगें:-

Exp 1. Na+H2O  = NaOH +H2  को संतुलित करें.

Solve:- सबसे पहले हम दिए गए समीकरण को लिखेगें –

         Na+H2O  = NaOH +H2

(i)इस समीकरण को संतुलित करने के लिए पहले Na और बाद में O और H को चुनना चाहिए .

(ii)दोनों तरफ एक – एक सोडियम परमाणु है ,इसलिए इनकी संख्याये बराबर करने की जरुरत नहीं है

(iii)समीकरण में “=” के दोनों तरफ  “O” परामाणुओ की संख्या भी बराबर है ,अर्थात यहाँ इसे भी संतुलित करने की आवश्यकता नहीं है .

(iv)समीकरण में बाई ओर “H” परमाणुओं की संख्या 2 है और दाई ओर “H” इसकी संख्या 3  है  ,इसलिए हम दाई ओर “H” परमाणु की संख्या सम करने के लिए  ” NaOH ” में दो से गुडा करेगें.

Na+H2O  = 2NaOH +H2

(v)अब समीकरण के दाई ओर “H” परमणु की संख्या 4 हो जाती है अब बाई ओर इसकी संख्या 4 करने के लिए   Na और  H2O में दो की गुणा करेगें. अब हमें निम्नलिखित समीकरण प्राप्त होता है. जो पूर्णतः संतुलित है

    2Na +2H2O = 2NaOH + H2

दिए गए समीकरण के दोनों तरफ प्रत्येक element की  atom की संख्या बराबर है

परमाण्विक  समीकरण को इसके आण्विक समीकरण के रूप में बदलने के नियम – 

यदि समीकरण में H2 ,N2  या O2 इत्यादि धात्विक गैसें अभिकराको में या उत्पादों में  आये तो समीकरण को संतुलित करने के लिए इम्नाकित नियम फॉलो करना चाहिए .

  1. सबसे पहले इन गैसों को इसके परमाण्विक अवस्था में लिखेगें जैसे ,H2 ,N2  और  O2 को H ,N और O लिखेगें. जैसे माना की दिए हुए समीकरण ” Na+H2O  = NaOH +H2 ” को इसके परमाण्विक रूप में ” Na+H2O  = NaOH +H”  लिखेगें .
  2. अब हम इस दिए हुए समीकरण में केवल दो से गुणा करेंगे तो हमें निम्नलिखित समीकरण प्राप्त  होता है . जो की पुर्णतः संतुलित समीकरण है ” 2Na +2H2O = 2NaOH + 2H “
  3. हम 2H को H2 लिखेगें. तो अब हमारा संतुलित  समीकरण  “” 2Na +2H2O = 2NaOH + H2 ” होगा.
  4. किसी भी संतुलित परमाण्विक समीकरण को किसी आण्विक समीकरण के रूप में बदलने के लिए हम इसके समीकरण में 2 से गुडा करते है. इसके लिए हम निचे दिए गए रासायनिक समीकरण को समझेगें.

Exp 2. परमाण्विक  समीकरण   KClO3 =KCl +3O को इसके आण्विक रूप में बदलो.

Ans. सबसे पहले हम समीकरण को लिखते है –   KClO3 =KCl +3O  यह समीकरण अपने परमाण्विक रूप में है

इस समीकरण में हम दोनों तरफ 2 से गुणा करेंगे – 2KClO3 =2KCl +6O यहाँ पर 6O को 3O2 भी लिखा जाता है.

अब हमारा आणविक समीकरण – 2KClO3 =2KCl +3O2  होगा. किसी भी संतुलित परमाण्विक समीकरण को 2 से गुणाकरने पर हमें उसका आणविक समीकरण प्राप्त होता है.

Exp 3. रासायनिक समीकरण  C2H2 +O =CO2 +H2O को संतुलित करें और  इसे आण्विक समीकरण के रूप में लिखे.

Ans. दिए गए समीकरण को लिखे –      C2H2 +O =CO2 +H2O

इस समीकरण में कार्बन परमाणु को दोनों तरफ बराबर करने के लिए CO2 में 2 से गुणा करने पर

C2H2 +O =CO2 +H2O

अब दाई ओर “O” परमाणुओं की संख्या 5 है ,इसलिए “O” परमाणु को बी बराबर करने के लिए बाई तरफ ओक्सिजन परमाणु में 5 से गुणा करेंगें और इसप्रकार निम्नलिखित संतुलित परमाण्विक समीकरण हमें प्राप्त होगा –

C2H2 +5O =CO2 +H2O

चुकी यह समीकरण परमाणविक समीकरण है ,और इसे आणविक समीकरण के रूप में बदलने के लिए 2 से गुणा करना पड़ेगा.

2C2H2 +10O =2CO2 +2H2O

यहाँ पर हम 10 O को हम  5O2 भी लिख सकते है अब हमारा प्राप्त संतुलित आणविक  समीकरण निम्नलिखित होगा

  2C2H2 +5O2 = 2CO2 +2H2O       Ans

यह समीकरण बताता है की एसीटीलींन (C2H2) को ओक्सिजन की उपस्थिति में गरम करने पर कार्बनडाइ ऑक्साइड और जल बनता है .

Exp 4. रासायनिक समीकरण ” NH4Cl  + Ca(OH)2 = CaCl2 +NH3 +H2O ” को संतुलित करें .

Solve-  NH4Cl  + Ca(OH)2 = CaCl2 +NH3 +H2O

दिए गए समीकरण से पता चलता है की अमोनियम क्लोराइड और कैलेसियम ह्य्द्रोक्साईड को गरम करने पर अमोनिया गैस प्राप्त होती है and जल मुक्त होती है

अब दिए गए समीकरण में Cl परमाणु को बराबर करने के लिए  NH4Cl को 2 से गुणा करेंगे अब हमारा प्राप्त समीकरण होगा –

2NH4Cl  + Ca(OH)2 = CaCl2 +NH3 +H2O

अब  “N” के परमाणु को बराबर करने के लिए NH3 में 2 से गुणा करेगें-

2NH4Cl  + Ca(OH)2 = CaCl2 +2NH3 +H2O

अब  ” O ” परमाणु को बराबर करने के लिए H2O को 2 से गुना करेगें ,अब हमारा सनुलित समीकरण निम्नलिखित होगा –

2NH4Cl  + Ca(OH)2 = CaCl2 +2NH3 +2H2O

यह समीकरण हमारा संतुलित समीकरण होगा , इस समीकरण में सरे तत्व संतुलित है ,and यह समीकरण एक संतुलित समीकरण है.

Exp 5.समीकरण  ” Cu + H2SO4  = CuSO4 +SO2 +H2O ” को संतुलित करें .

Solve:- दिया गया समीकरण Cu + H2SO4  = CuSO4 +SO2 +H2O  है .

अब दिए गए समीकरण में सल्फर परमाणु को बराबर करने के लिए H2SO4 को 2 से गुना करने पर –

Cu + 2H2SO4  = CuSO4 +SO2 +H2O

अब H परमाणु को बराबर करने के लिए H2O  में 2 से गुना करने पर दिया गया समीकरण बराबर हो जाती है अब दिया गया संतुलित समीकरण निम्न है –

Cu + 2H2SO4  = CuSO4 +SO2 +H2O       Ans

Exp6. समीकरण ” Na2S2O3 + HCl =NaCl + SO2 +S + H2O “ को संतुलित करें .

Solve :- अब उपर दिए गए समीकरण में Na के परमाणु को बराबर करेने के लिए NaCl को 2 से गुणा करेगें ,अब हमारा प्राप्त समीकरण निम्न है –       Na2S2O3 + HCl = 2NaCl + SO2 +S + H2O

अब क्लोरिन परमाणु को बराबर करने के लिए HCl परमाणु में 2 से गुणा करेगें. अब हमारा प्राप्त समीकरण निम्न होगा –

Na2S2O3 + 2HCl = 2NaCl + SO2  +S + H2O  अब यह समीकरण एक संतुलित समीकरण है.

Exp7. समीकरण ” As2O3 + SnCl2 + HCl = SnCl4 + As +H2O “ को संतुलित करें.

Solve:- दिए गए समीकरण में As और O परमाणु को संतुलित करने के लिए As में 2 से और H2O में 3 से गुणा करगें

As2O3 + SnCl2 + HCl = SnCl4 + 2As +3H2O

अब H परमाणु को बराबर करने के लिए HCl में 6 से गुना करेगें –  As2O3 + SnCl2 +6 HCl = SnCl4 + 2As +3H2O

अब Cl की परमाणु की संख्या बराबर करने के लिए बाई ओर SnCl2 में 3 से और दाई ओर   SnCl4  में 3 से गुणा करेंगे. As a result अब हमारा संतुलित रासायनिक समीकरण निम्न होगा –  As2O3 + 3SnCl2 +6HCl = 3SnCl4 + 2As +3H2O   Ans

Exp8. समीकरण ” Na +H2O =NaOH +H ” को संतुलित करें.

Solve :- दिया गया समीकरण एक संतुलित समीकरण है -लेकिन यह एक परमाण्विक समीकरण है ,इसको आणविक समीकरण में बदलने के लिए हम इसके दोनों पक्षों में 2 से गुणा करेंगे ,अब हमारा प्राप्त समीकरण निम्न है –

2Na +2H2O =2NaOH +2H  यहाँ H हमेसा गैसीय रूप में पाई जाती है,2H को H2 लिखा जायेगा As a result अब हमारा दिए गए समीकरण निम्न है –            2Na +2H2O =2NaOH +H2     Ans

Exp9. समीकरण ” Ca +H2O =Ca(OH)2 +H ” को संतुलित करें.

Solve :-  दिए गए समीकरण में O परमाणु बराबर नहीं है इसलिए H2O और H में 2 से गुना करने पर –

Ca +2H2O =Ca(OH)2 +2H  यह एक संतुलित समीकरण है  इसे हम आणविक फॉर्म में इसप्रकार लिखेगें –

  Ca +2H2O =Ca(OH)2 +H2               Ans.

Exp 10. समीकरण ” CaCO3 + HCl = CaCl2 +CO2 +H2O “को संतुलित करें .

Solve:- सबसे पहले हम क्लोरिन को संतुलित करते है इसके लिए HCl में 2 से गुणा करेगें

” CaCO3 + 2HCl = CaCl2 +CO2 +H2O   यह एक संतुलित रासायनिक समीकरण है.

Exp 11. समीकरण ” NaOH+H2SO4 = Na2SO4 +H2O “को संतुलित करें .

Solve:-इस समीकरण में Na को बराबर करने के लिए NaOH में 2 से गुना करेगें

“2NaOH+H2SO4 = Na2SO4 +H2O ” अब O को संतुलित करने के लिए H2O में 2 से गुणा करेंगे .

“2NaOH+H2SO4 = Na2SO4 +2H2O “   यह समीकरण एक संतुलित समीकरण है

Exp 12. समीकरण ” Na2CO3+HNO3 = NaNO3 +CO2+H2O “को संतुलित करें .

Solve:-  दिए गए समीकरण में Na को संतुलित करने के लिए NaNO3 में 2 से गुणा करना पड़ेगा.

” Na2CO3+HNO3 = 2NaNO3 +CO2+H2O ”

अब हम नाइट्रोजन परमाणु को बराबर करने के लिए HNO3 में 2से गुना करेगें

” Na2CO3+2HNO3 = 2NaNO3 +CO2+H2O ” यह एक संतुलित रासायनिक समीकरण है .

Exp 13. समीकरण ” KHCO3 +H2SO4 = K2SO4 + CO2 +H2O “को संतुलित करें .

Solve :- समीकरण में K को संतुलित करने के लिए  KHCO3 में 2 का गुणा करेंगे अब हमारा समीकरण है –

” 2KHCO3 +H2SO4 = K2SO4 + CO2 +H2O ”

अब C परमाणु को संतुलित करने के लिए CO2 में 2 से गुणा करेंगे , अब हमारा समीकरण निम्न होगा

” 2KHCO3 +H2SO4 = K2SO4 + 2CO2 +H2O ”

अब O को संतुलित करने के लिए H2O में 2 से गुणा करेंगे. अब हमारा प्राप्त समीकरण निम्न होगा

” 2KHCO3 +H2SO4 = K2SO4 + 2CO2 +2H2O “  यह समीकरण एक संतुलित समीकरण है.

Exp 14. समीकरण ” Ca(OH)2 + CO2 = CaCO3 + H2O  “को संतुलित करें .

Solve:- ऊपर दिया गया समीकरण एक संतुलित समीकरण है ,अतः इसे संतुलित करने की अवस्यकता नहीं है .

Exp 15. समीकरण ” C2H4 +O2 = CO2 +H2O  “को संतुलित करें .

Solve:- दिए गए समीकरण में C को बराबर करने के लिए CO2 में 2से गुना करेगें

” C2H4 +O2 = 2CO2 +H2O  ”

अब O परमाणु को संतुलित करने के लिए O2 में 3 से और H2O में 2 से गुना करने पर –

” C2H4 +3O2 = 2CO2 +2H2O   “ एक संतुलित समीकरण है.

दोस्तों यदि हमारा पोस्ट आपको पसंद आया हो तो इसे लाइक करे  अपने दोस्तों को शेयर करे और यदि आपके पास इस टॉपिक से रिलेटेड कोई डाउट हो तो हमें कमेंट करें . यदि आप जॉब की तैयारी कर रहे है तो निचे हमारे दिए गए पोस्ट भी जरुर पढ़े-

दोस्तों ,हमारे साथ बने रहने के लिए हमें Facebook ,google + ,और Twitter पर फॉलो कीजिये

 

8 thoughts on “रासायनिक समीकरण को संतुलित करना सीखें

  1. Hitler

    Thanks For Gave Me Lovely Information In Chemistry Science.Nice Sir

    Reply
  2. DANISH ANSARI

    THANKS FOR THIS INFORMATION ..

    THANKS A LOT

    U ARE REALLY GREAT SIR

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.